Type Here to Get Search Results !

[ Top 23 ] + Mar Mitne Wali Shayari | मर मिटने वाली शायरी

Mar Mitne Wali Shayari : आज कि इस पोस्ट में हम आपके साथ मर मिटने वाली शायरी शेयर करने वाले है अगर आप शायरी पढ़ना पसंद करते हैं तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें यहाँ पर आपको बहुत सारे शायरी पढ़ने को मिल जाऐगा अगर आपको यह शायरी पसंद आऐ तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें बहुत सारे लोग गूगल पर शायरी लिखकर सर्च करते हैं जैसे दिल से चाहने वाली शायरी, किसी को समझने वाली शायरी कुछ इस तरह के शब्दों को लिखकर सर्च करते हैं 

mar mitne wali shayari


Mar Mitne Wali Shayari | मर मिटने वाली शायरी



कौन कहता है कि मौत आई तो मर जाऊँगा 

मैं तो दरिया हूँ समुंदर में उतर जाऊँगा


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


कोई नहीं आयेगा मेरी ज़िनदगी में तुम्हारे सिवा,

बस एक मौत ही है जिसका मैं वादा नहीं करता।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



हर रोज पीता हूँ तेरे छोड़ जाने के गम में…

वरना पीने का मुझे कोई शौक नहीं…

बहुत याद आते हैं तेरे साथ बिताए हुए लम्हें…

वरना मुझे मर – मर कर जीने का कोई शौक नहीं


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,

मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,

न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,

के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


मिटटी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई,

मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई,

कुछ पल की मोहलत और दे दे ए खुदा,

उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी…

हर रात का आखरी खयाल और…

हर सुबह की पहली सोच हो तुम…


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


कई लोग मुझको गिराने मे लगे है,

सरे शाम चिराग भुझाने मे लगे है,

उन से कह दो क़तरा नही मैँ  समन्द्र हूँ,

डूब गये वो ख़ुद जो डूबाने मे लगे है!


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


कम से कम मौत से ऐसी मुझे उम्मीद नहीं 

ज़िंदगी तू ने तो धोके पे दिया है धोका


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



अगर रुक जाए मेरी धड़कन तो मौत न समझना,

कई बार ऐसा हुआ है तुझे याद करते करते।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


बिछड़ा कुछ इस अदा से कि रुत ही बदल गई 

इक शख़्स सारे शहर को वीरान कर गया



Mar Mitne Wali Shayari | लड़की पर मर मिटने वाली शायरी



तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम…

बस यही एक वादा निभा पायेगें हम…

मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन…

तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम…


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,

जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,

दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,

जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है….||


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



एक दिन निकला सैर को मेरे दिल में कुछ अरमान थे,

एक तरफ थी झाड़ियाँ... एक तरफ श्मशान थे,

पैर तले इक हड्डी आई उसके भी यही बयान थे,

चलने वाले संभल कर चलना हम भी कभी इंसान थे।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



दो अश्क मेरी याद में बहा जाते तो क्या जाता,

चंद कलियाँ लाश पे बिछा जाते तो क्या जाता,

आये हो मेरी मय्यत पर सनम नकाब ओढ़कर.

अगर ये चाँद का टुकड़ा दिखा जाते तो क्या जाता।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



नहीं में इक़रार महबूब के दिल ने पाया।

उसके नहीं से करार दिल को आया।।

एक नहीं ने मंजिले मोहब्बत को आसाँ बनाया।

नहीं ने दिल की सोई हुई उमंगो को फिर से जगाया।।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


गहरी रात भी थी हम डर भी सकते थे,

हम जो कहे ना सके वो कर भी सकते थे,

तुम ने साथ छोड़ दिया हमारा ये भी ना सोचा,

हम पागल थे तेरे लिए मर भी सकते थे।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


आसमान के परे मुकाम मिल जाए,

खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए,

थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते,

ठहरे सांसे तो शायद आराम मिल जाए।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


दिल दुखाने का काम छोड़ दो,

मेरे नाम कोई तो पैगाम छोड़ दो,

वफ़ा कर नहीं सकते तो ना ही सही,

लेना महफिल में मेरा नाम छोड़ दो!


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


हर इल्जाम का हकदार वो हमें बना जाते हैं…

हर खता कि सजा वो हमें सुना जाते हैं…

हम हरबार खामोश रह जाते हैं…

क्योंकि वो अपना होने का हक जता जाते हैं…


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


सुहाना मौसम और हवा में नमी होगी,

आंसुओं की बहती नदी न थमी होगी,

मिलना तो हम तब भी चाहेंगे आपसे,

जब आपके पास वक़्त और...

हमारे पास साँसों की होगी।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


इस दिल को अगर तेरा एहसास नही होता ….

तू दूर भी रहकर यूं दिल के पास नही होता ….

इस दिल ने तेरी चाहत कुछ ऐसे बसा ली है ….

इक लम्हा भी तुझ बिन कुछ खास नही होता ..


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


तुझे पलकों पर बिठाने को जी चाहता है,

तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है,

खूबसूरती की इंतेहा है तू…

तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~


आग लगी दिल में जब वो खफ़ा हुए,

एहसास हुआ तब, जब वो जुदा हुए,

करके वफ़ा वो हमे कुछ दे न सके,

लेकिन दे गये बहुत कुछ जब वो वेबफा हुए।


~~~❤🤷‍♀️❤~~~



बहुत समझाया खुद को मगर समझा नही पाये…

बहुत मनाया खुद को मगर मना नही पाये…

जाने वो क्या जज्बा था वो एहसास था…

खूब भुलाना चाहा उसे हमने मगर भुला नहीं पाये


इसे भी पढ़े :-


दिल को धड़कने वाली शायरी

दिल को छू जाने वाली शायरी हिंदी में

गर्लफ्रेंड के लिए शायरी

लव शायरी इन हिंदी फाॅर बाॅयफ्रेंड

दिल दुखाने वाली शायरी

दिल जीतने वाली शायरी

दिल को रुलाने वाली शायरी

दिल को चुभ जाने वाली शायरी

बर्थडे शायरी 2 लाइन

दोस्त के लिए दुआ शायरी

पत्नी के लिए शायरी

वाइफ के लिए रोमांटिक शायरी

पति के लिए शायरी

रोमांटिक गुड मॉर्निंग शायरी

मोहब्बत का एहसास शायरी

प्यार में मजबूर शायरी



मै उम्मीद करता हूँ कि आपको Mar Mitne Wali Shayari | मर मिटने वाली शायरी पसंद आया होगा अगर आपको यह शायरी पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.